Connect with us

nagpur samachar

शाही संदल में उमड़ा जनसैलाब

Published

on

बाबा की शान में पढ़े गए सूफियाना कलाम

नागपुर. हज़रत सैय्यद मोहम्मद बाबा ताजुद्दीन रहमतुल्लाह अलैह के  101 वां सालाना उर्स मुबारक मौके पर निकले शाही संदल में अकीतमंदों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। बाबा ताजुद्दीन की शान में सूफियाना कलाम पढ़े गए। इसके बाद रस्म-ए-संदल हुई। हजरत बाबा ताजुद्दीन ट्रस्ट के तत्वाधान में निकाले गए शाही संदल के दौरान अकीतमंदों में खजूर बांटी गई और संदल का इस्तकबाल इत्र की फव्वारा वर्षा से किया गया।

ऐसे हुई थी शुरूआत

बाबा ताजुद्दीन के शाही संदल की निकालने की शुरूआत बीड़पेठ से हजरत मोहम्मद बाबा रहमतुल्लाह अलैह कादरी ताजी ने की थी। बाबा मोहम्मद ताजी, बाबा ताजुद्दीन के बड़े ही चहेते थे। नागपुर शहर में राजे रघुजी राव की रियासत के  जमाने में भी मोहम्मद बाबा ताजी बाबा ताजुद्दीन के मशहूर खादीम माने जाते थे। यह परंपरा आज भी कायम है।

देश-विदेश से आते हैं लाखों लोग

उर्स मुबारक मौके पर देश-दुनिया से लाखों अकीतमंद यहां पहुंचते हैं। इनके रहने , खाने और अन्य सुविधा का इंतजाम बाबा ताजुद्दीन ट्रस्ट ,  मनपा शासन, प्रशासन व पुलिस विभाग की  की ओर से विशेष रूप से किया जाता है।  कार्यक्रम का  सफल आयोजन एआईएमआईएम के अध्यक्ष शोएब अहमद शकील पटेल, इसहाक मन्सुरी सोहेल सत्तार कलीम मिरकाशिम सोहेल खान, सैय्यद शमीर अली हाजी, रियाज़ जाकीर गनी शकील शेख रफीक गनी इसहाक कुरेशी कदीर भाई हाजी फैय्याजुद्दिन अय्युब खान खादीम अमीन ताजी निसार ताजी अशरफी शमसुद्दीन ताजी जाकीर जवान अशफ़ाक अहमद अहमद भाई की ओर से किया गया।

https://youtu.be/vngPb1qXhs0

हज़रत सैय्यद मोहम्मद बाबा ताजुद्दीन रहमतुल्लाह अलैह के  101 वां सालाना उर्स मुबारक मौके पर निकले शाही संदल में अकीतमंदों का उमड़ा जनसैलाब.

NAGPUR

नागपुरकरों के लिए शेयर ऑटो सुविधा

Published

on

By

महामेट्रो का नए साल का तोहफा

नागपुर. अब नागपुरकरों के लिए मेट्रो स्टेशन तक पहुंचना और यात्रा के बाद गंतव्य तक पहुंचना बहुत आसान हो जाएगा। क्योंकि अब महाराष्ट्र मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने यात्रियों के लिए सोमवार से शेयर ऑटोरिक्शा की व्यवस्था कर दी है। क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी के  प्रस्ताव को हाल ही में कलेक्टर की अध्यक्षता वाली परिवहन समिति ने मंजूरी दे दी है और नए साल में महामेट्रो द्वारा यह सेवा शुरू की जाएगी। इससे मेट्रो स्टेशन तक पहुंचना और मेट्रो से यात्रा कर गंतव्य तक पहुंचना बहुत सुविधाजनक हो जाएगा। यह नागपुर के लोगों के लिए नए साल का उपहार होगा। महामेट्रो नए साल में यात्रियों के लिए शेयर ऑटो सेवा शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार है।

Continue Reading

nagpur samachar

कांग्रेस MLA सुनील केदार को झटका

Published

on

By

बैंक घोटाले में 5 साल की सजा, 21 साल बाद आया फैसला

नागपुर. पूर्व मंत्री व कांग्रेस नेता सुनील केदार की मुश्किलें और बढ़ गईं हैं। बहुचर्चित नागपुर जिला बैंक घोटाला मामले में कोर्ट का फैसला आ गया है। नागपुर की विशेष अदालत ने कांग्रेस विधायक सुनील केदार और पांच अन्य को दोषी ठहराया है। जबकि सबूतों के अभाव में तीन अन्य को बरी कर दिया है। इस मामले में केदार को 5 साल की सजा सुनाई गई है। साथ ही 12.50 लाख रुपये का जुर्माना भी लगा है। नागपुर जिला केंद्रीय सहकारी बैंक (एनडीसीसीबी) घोटाला मामलों की सुनवाई कर रही विशेष अदालत ने शुक्रवार को सावनेर से कांग्रेस विधायक सुनील केदार को 150 करोड़ रुपये के घोटाले में दोषी ठहराया है। घोटाले के अन्य आरोपियों को भी सजा सुनाई गई है। महाविकास अघाडी (एमवीए) सरकार में मंत्री रहे सुनील केदार से जुड़े इस मामले में दो दशक से अधिक समय बाद फैसला आया है।

केदार समेत 11 आरोपी थे मौजूद

 

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ज्योति पेखले-पुरकर की अदालत में दोषियों को सजा सुनाई गई। सुनवाई के दौरान केदार के अलावा अन्य आरोपी भी अदालत में मौजूद थे। जांच एजेंसी की चार्जशीट में केदार और 11 अन्य आरोपियों पर आईपीसी की धारा 406, 409, 468, 471, 120-बी और 34 के तहत आरोप लगाए गए थे। आरोपियों में बैंक के पूर्व महाप्रबंधक अशोक चौधरी, तत्कालीन मुख्य अकाउंटेंट सुरेश पेशकर, महेंद्र अग्रवाल, श्रीप्रकाश पोद्दार, सुबोध भंडारी, कानन मेवावाला, नंदकिशोर त्रिवेदी, अमित वर्मा और मुंबई के स्टॉकब्रोकर केतन सेठ शामिल हैं। हालांकि बॉम्बे हाईकोर्ट ने अग्रवाल के मामले पर रोक लगाई थी, जबकि मेवावाला फरार है।

क्या है मामला

2002 में जब 150 करोड़ रुपये का घोटाला सामने आया था तब कांग्रेस नेता बैंक के अध्यक्ष थे। सीआईडी के तत्कालीन उपाधीक्षक किशोर बेले इस घोटाले के जांच अधिकारी हैं। जांच पूरी कर उन्होंने 22 नवंबर 2002 को अदालत में चार्जशीट दाखिल की थी। तभी से विभिन्न कारणों से सुनवाई पूरी नहीं हो सकी और मामला लंबित था।

Continue Reading

nagpur samachar

24 घंटे में 3.4 डिसे लुढ़का पारा

Published

on

By

विदर्भ में गोंदिया सबसे ठंडा

नागपुर. स्मार्टसिटी में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पूरे विदर्भ में सबसे ठंडे शहरों में नागपुर तीसरे स्थान पर है जबकि गोंदिया पहले स्थान पर है ।नागपुर में पिछले 24 घंटे में न्यूनतम तापमान 3.4 डिसे लुढ़का है। मौसम विभाग के मुताबिक आने वाले 2 दिनों में 2 से 3 डिसे. पारा लुढ़क सकता है जिससे ठंड और बढ़ेगी। मंगलवार को गोंदिया में न्यूनतम तापमान 9 डिसे, यवतमाल में 9.1 और नागपुर में 9.8 डिसे दर्ज किया गया है। विदर्भ के सभी शहरों के न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।

कहां, कितनी ठंड

शहर      न्यूनतम तापमान

गोंदिया             9.0

यवतमाल           9.1 

 नागपुर              9.4

 वाशिम            10.0 

 चंद्रपुर              11.0

  वर्धा                 11.4

 अमरावती        12.5

बुलढाणा           12.8

अकोला             13.5

Continue Reading

Trending