Connect with us

madhyapradesh

फिर जमकर बरसेंगे बदरा

Published

on

72 घंटे बाद प्रदेश में सक्रिय होगा मानसून

रायपुर. छत्तीसगढ़ में इन दिनों मानसून पर ब्रेक लगा हुआ है। जिसकी वजह से मौसम की दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। कहीं झमाझम बारिश से मानसून का कोटा फुल हो गया है तो कई जिलों में औसत से भी कम बारिश हुई है। सरगुजा जिले में सूखे के हालात हैं लेकिन अब अच्छी बारिश की उम्मीद की जा रही है। मौसम विभाग के अनुसार 4 सितम्बर से प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश होने के आसार हैं।

15 जिलों में सामान्य से कम बारिश

राज्य में इस वक्त मानसून पर पूरी तरह से विराम लगा हुआ है। पिछले दिनों कुछ जगहों पर स्थानीय प्रभाव से तेज बारिश हुई है लेकिन बाकी जगहों पर उमस ने खासा परेशान किया है। मौसम विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक 1 जून से लेकर 31 अगस्त तक प्रदेश के 15 जिलों में सामान्य से कम बारिश हुई है। प्रदेश में 739.5 मिलीमीटर औसत बारिश रिकॉर्ड की गई है। जिसमें सिर्फ बीजापुर जिले में ही सामान्य से 20 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है।

सरगुजा में सूखे के हालात

मौसम विभाग के अनुसार सरगुजा में अब तक 61 फीसदी कम औसत बारिश हुई है, जिसकी वजह से सूखे जैसे हालात हैं। इसी प्रकार बलरामपुर में 25 प्रतिशत कम, बस्तर में 21 प्रतिशत, बेमेतरा में 30, जशपुर में 50, कबीरधाम में 35, कांकेर में 32, कोंडागांव में 38, कोरबा में 33, कोरिया में 25, नारायणपुर जिले में 26, दंतेवाड़ा में 23, गरियाबंद में 21 प्रतिशत कम, जांजगीर में 38, रायगढ़ में 21 प्रतिशत और सूरजपुर जिले में 29 प्रतिशत कम बारिश हुई है।

बंगाल की खाड़ी पर बना चक्रवात

मौसम विभाग के मुताबिक मानसूनी द्रोणिका हिमालय की तराई में लगातार बनी हुई है। एक ऊपरी हवा का चक्रवात उत्तर- पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर 5.8 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है और इसके साथ ही एक ऊपरी साइक्लोन सर्कुलेशन पूर्वी उत्तर प्रदेश और उससे लगे बिहार के ऊपर 3.1 किलोमीटर से 4.5 किलोमीटर ऊंचाई तक फैला हुआ है। जिसके असर से कुछ जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। तापमान में बदलाव नहीं होगा लेकिन 4 सितम्बर से अच्छी बारिश हो सकती है।

Featured

सीहोर में बनी फिल्म ‘व्हाट-ए-किस्मत’ 1 मार्च को होगी रिलीज

Published

on

By

मुंबई में ट्रेलर किया गया लॉन्च

मुंबई. ‘चांदनी बार’ और ‘गौर हरी दास्तां’ जैसी फिल्मों के पटकथा लेखक मोहन आज़ाद ने कॉमेडी फिल्म ‘व्हाट- ए- किस्मत’ का ट्रेलर मुंबई में लॉन्च किया । बता दें कि राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित मोहन आज़ाद इस फिल्म के निर्देशक हैं। यह फ़िल्म आगामी एक मार्च को देश के सिनेमाघरों में प्रदर्शन के लिए तैयार है।

सीहोर के वरिष्ठ समाज सेवी अखिलेश राय, लीसा  राय और  अंशय  फिल्म के निर्माता हैं। फ़िल्म के मुख्य अभिनेता युद्धवीर दहिया, वैष्णवी पटवर्धन, कपिल शर्मा फेम श्रीकांत मस्की, आनंद मिश्रा, सीहोर की होनहार प्रतिभा रिया चौधरी, अभिषेक सक्सेना आदि हैं।फिल्म के प्रोडक्शन मैनेजर का कार्य और सहायक पटकथा लेखक की जिम्मेदारी सीहोर के शैलेन्द्र गोहिया ने संभाली है, जो मुंबई में कार्यरत हैं।

 

 

 ‘चंदू’ के इर्द-गिर्द घूमती है स्टोरी

फिल्म की कहानी चंदू (युद्धवीर) के जीवन के इर्द-गिर्द घूमती है जो भाग्य से  हारा हुआ एक व्यक्ति है लेकिन उसके सपने बड़े हैं।  उसकी पत्नी आरती (वैष्णवी) उससे तंग आ चुकी है, उसका निराश बॉस (भरत दाभोलकर) उसे नौकरी से निकालने वाला है और ‘दूसरी लड़की’ (मानसी) उसके अस्तित्व को भी स्वीकार नहीं करती है।

लेकिन उसके  भाग्य में एक मोड़ आता है।  रिपोर्टर (कपिल शर्मा शो फेम श्रीकांत), इंस्पेक्टर (रोनित) और अति स्मार्ट एसपी (टीकू तल्सानिया) द्वारा पीछा किए जाने पर, उसका जीवन ही एक खतरनाक मजाक में बदल जाता है। युद्धवीर दहिया, वैष्णवी, मानसी सहगल, टीकू तल्सानिया, भरत दाभोलकर, रोनित अग्रवाल, भावना बलसावर, श्रीकांत मास्की, आनंद मिश्रा, सीहोर की बेटी रिया चौधरी और भोपाल के अतुल द्विवेदी की स्टार कास्ट के साथ इस फिल्म की पूर्ण शूटिंग सीहोर में की गई है ।

 सीहोर में ही हुई है शूटिंग 

इस फिल्म की संपूर्ण शूटिंग सीहोर में ही लगभग एक माह में पूर्ण की गई है। फिल्म के क्रिएटिव डायरेक्टर विक्रांत भी सीहोर के ही हैं। फिल्म के प्रोडक्शन मैनेजर का कार्य और सहायक पटकथा लेखक की जिम्मेदारी सीहोर के शैलेन्द्र गोहिया ने संभाली है, जो मुंबई में कार्यरत हैं। फिल्म के कार्यकारी निदेशक शुजालपुर के अभिषेक सक्सेना हैं। यह फिल्म मध्यप्रदेश और विशेष रूप से सीहोर की फिल्म है। जिसमें सीहोर के प्रसिद्ध पर्यटक व धार्मिक स्थानों को भी दर्शाया गया है। फिल्म के सभी जूनियर कलाकार सीहोर के हैं। फिल्म का चित्रण विलास चव्हाण, ध्वनि कार्य प्रमोद गुप्ता, रचनात्मक निर्देशन आदित्य बंग, एडिट कामेश कुमार, नृत्य निर्देशन जानवी शाह, मेकअप वाजिद शेख, कला कार्य विनायक होजेगा ने किया है। उम्मीद की जा रही है कि फिल्म व्हाट-ए-किस्मत सफलता के नए झंडे गाड़ेगी और सीहोर के साथ मध्यप्रदेश का भी नाम रोशन करेगी।

Continue Reading

madhyapradesh

एमपी में 1% ज्यादा वोटिंग

Published

on

By

भोपाल. मध्य प्रदेश विधानसभा 2023 के लिए राज्य की 230 विधानसभा सीटों पर शुक्रवार को मतदान हुआ, जिसमें 2,533 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम मशीन में कैद हो चुकी है। वोटिंग को लेकर मतदाताओं में काफी उत्साह दिखा। एमपी में 76.22 फीसदी मतदान रहा, जबकि 2018 के चुनाव में 75.63 फीसदी वोटिंग ही हुई थी। इस तरह से करीब 1 फीसदी मतदान ज्यादा रहा।

मालवा में सबसे अधिक मतदान

चुनाव आयोग ऐप वोटर टर्न-आउट के मुताबिक, मध्य प्रदेश चुनाव में आगर मालवा जिले में सबसे अधिक 83.31 फीसदी वोटिंग दर्ज की गई जबकि भिंड जिले में सबसे कम 58.41 फीसदी वोटिंग रही। मध्य प्रदेश के 55 जिलों में से 15 जिलो में 58 फीसदी से 70 फीसदी के बीच वोटिंग रही जबकि 40 जिलों में 70 फीसदी से ऊपर मतदान रहा। आगर मालवा, बालाघाट, नीमच, राजगढ़, रतलाम, सेवनी और शाजापुर जिले में 80 फीसदी से ज्यादा वोटिंग हुई।

ये है वोटिंग ट्रेंड        

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव वोटिंग ट्रेंड को देखें तो पिछले चुनाव से इस बार एक फीसदी वोटिंग ज्यादा हुई है। पिछले 38 सालों में हुए 8 विधानसभा चुनाव में जब-जब मतदान लगभग 5 फीसदी बढ़ा है तो सत्ता परिवर्तन हुआ है।इस बार भी वोटिंग प्रतिशत बढ़ा है, जिसके चलते राजनीतिक दलों की धड़कनें बढ़ गई हैं। कांग्रेस और बीजेपी के बीच भले ही सीधा मुकाबला हो, लेकिन बसपा, सपा, आम आदमी पार्टी सहित तमाम दल चुनावी मैदान उतरने से कई सीटों पर त्रिकोणीय लड़ाई दिख रही है।

Continue Reading

madhyapradesh

दिग्गी बोले – BJP के 7 नेताओं ने सिलवाए सूट

Published

on

By

सभी CM पद के दावेदार

सागर. कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने यहां बीजेपी पर हमला किया.उन्होंने दावा किया कि  ‘पार्टी में सात लोगों ने मुख्यमंत्री की शपथ लेने के लिए सूट सिलवाए हुए हैं, लेकिन सीएम शिवराज कुर्सी छोड़ना नहीं चाहते. उन्होंने नेताओं के नाम भी गिनाते हुए कहा कि  नरेंद्र सिंह तोमर, कैलाश विजयवर्गीय, नरोत्तम मिश्रा, गोपाल भार्गव, भूपेंद्र सिंह और वीडी शर्मा सूट सिलवाकर तैयार बैठे हैं. लेकिन मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पद का शपथ ग्रहण कमलनाथ ही करेंगे.’

कमलनाथ ही होंगे सीएम

दिग्विजय सिंह का फोकस उन सीटों पर सबसे ज्यादा है, जहां पिछले कुछ चुनावों से कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में दिग्विजय सिंह फिलहाल बुंदेलखंड अंचल के दौरे पर हैं. सुरखी विधानसभा में उन्होंने कहा कि कमलनाथ के नेतृत्व में ही कांग्रेस मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ेगी और कमलनाथ ही प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री बनेंगे.’ सागर जिले की खुरई, रहली और सुरखी विधानसभा सीट बीजेपी का गढ़ मानी जाती है. ऐसे में दिग्विजय सिंह खुद इन विधानसभा क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं. लेकिन दिग्विजय सिंह पिछले कुछ दिनों से जिस भी विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर जा रहे हैं. उन्होंने वहां कमलनाथ के नेतृत्व में ही आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने की बात कही है.

Continue Reading

Trending