7 एयर बैग, फिर भी मौत क्यों?

Spread with love

सायरस की मौत ; हादसा या साजिश!

मुंबई. टाटा संस के पूर्व चेयरमैन सायरस मिस्त्री के हादसे के बाद सामने आए वीडियो के बाद लोग कई तरह के सवाल खड़े कर रहे हैं। क्योंकि मिस्त्री जिस मर्सिडीज कार में थे वह बहुत सुरक्षित मानी जाती है। इसके कई फीचर हैं, जो अंदर बैठे लोगों को पूरी सुरक्षा प्रदान करते हैं। इतनी सुरक्षित कार होने के बाद हादसा कैसे हुआ? ये कैसे हो सकता है कि जो लोग कार में आगे बैठे थे उन्हें कुछ नहीं हुआ और पीछे बैठे दो लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई? बावजूद इसके अंदर से कार को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। मर्सिडीज कार में सात एयरबैग होते हैं। अब मामले की जांच की मांग भी उठने लगी है।

ये कहती है पुलिस
पुलिस ने प्रारंभिक जांच के आधार पर रिपोर्ट बनाई है। पुलिस का दावा है कि हादसे के वक्त आगे बैठे दोनों यात्रियों ने तो सीट बेल्ट पहन रखी थी, लेकिन पीछे बैठे लोगों ने नहीं। ऐसे में जब कार डिवाइडर से टकराई तो पीछे बैठे सायरस मिस्त्री और जहांगीर पंडोले उछलकर आगे की तरफ आ गए होंगे और एयरबैग खुलने से पहले ही उनके सिर में गंभीर चोट लग गई होगी। जिसकी वजह से दोनों की मौत हो गई। पुलिस का ये भी कहना है कि हादसे के वक्त मिस्त्री की कार किसी दूसरे गाड़ी को ओवरटेक कर रही थी ।

https://www.youtube.com/watch?v=osaPdA4dMFc

बहुत से सवाल अनसुलझे
ऑटोमोबाइल सेक्टर के विशेषज्ञों का मानना है कि अभी तक जो तस्वीरें और वीडियो सामने आए हैं, उसे देखकर ये हादसा ही लग रहा है। आगे बैठे दोनों लोग बेल्ट लगाए हुए थे, लेकिन पीछे बैठे सायरस मिस्त्री और दूसरे दोस्त ने बेल्ट नहीं पहनी थी। इसके चलते जब तक एयरबैग खुलता, तब तक दोनों को चोट लग चुकी थी। साजिश के सवाल पर उनका मानना है कि इसकी जांच पुलिस को करनी चाहिए। अचानक ऐसा क्या हुआ कि कार डिवाइडर से टकरा गई। कार डिवाइडर से कैसे टकराई, क्या हालात थे? यह सब देखना होगा। हादसे के पहले कार की क्या कंडिशन थी? कार की स्पीड क्या थी? ड्राइवर की जगह सायरस की डॉक्टर मित्र कार क्यों चला रहीं थी? यह भी अहम सवाल है। इन सवालों के जवाब मिलने के बाद ही सही मायने में इसके बारे में कुछ कहा जा सकता है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.