कलेक्टर की व्हाटसएप पर डीपी लगाकर अधिकारियों से मांगी रकम

Spread with love

रमेश सोलंकी .आसिफाबाद. सोशल मीडिया का उपयोग बढ़ने के साथ-साथ इससे जुड़े साइबर क्राइम का ग्राफ भी लगातार बढ़ता जा रहा है। अपराधी लोगों को ठगने के नए – नए तरीके अपना रहे हैं। पहले  फेसबुक से लोगों को ठगा जाता था। लेकिन अब अपराधी व्हाट्सएप का एक प्लेटफॉर्म के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं। हाल ही में यहां एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें अपराधियों ने कलेक्टर की ही व्हाट्सएप डीपी लगाकर अधिकारियों से पैसे की मांग की।

क्या है मामला

प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी जिला अधिकारियों को कुमरम भीम आसिफाबाद जिला कलेक्टर राहुल राज के नाम से एक सामाजिक मंच के माध्यम  से व्हाट्सएप  संदेश मिला। जिसमें लिखा था कि-‘मैं एक इमरजेंसी मीटिंग में हूं।  अभी बात नहीं कर सकता हूं।  आप सभी अधिकारी इस नं. पर 9725199485  रकम भेज दें।  डीपी (डिस्प्ले पिक्चर) में  कलेक्टर की फोटो थी, इसलिए कई अधिकारियों ने यह विश्वास किया कि यह मैसेज सही है। डीपीओ रविकृष्ण को संदेश प्राप्त हुआ – रविकृष्ण कहां हैं? मैं एक इमरजेंसी मीटिंग में हूं.. क्या आपके पास अमेजॉन से ये पे गिफ्टकार्ड है, तब रामा कृष्णा ने कहा कि – मेरे पास गिफ्ट कार्ड नहीं है, तब उन्होंने कहा कि नहीं है तो तुरंत वेबसाइट पर जाएं और कार्ड लें। कुमरमभीम जिले के अधिकारियों ने शुरुआत में गुरुवार को आदिलाबाद कलेक्टर सिक्ता पटनायाक डीपी के साथ भी इसी तरह के संदेशों का आदान-प्रदान किया गया था। बाद में  किसी ने पैसे नहीं भेजे। बैंक और एटीएम नंबर का उल्लेख नहीं किया गया था। इस संबंध में कलेक्टर राहुलराज ने जिला अधिकारियों से लोगों के फर्जी संदेशों का जवाब न देने की अपील की है।

आसिफाबाद को  प्रधानमंत्री उत्कृष्टता पुरस्कार

बता दें कि हाल ही में कुमरम भीम आसिफाबाद जिला ने पोषण अभियान श्रेणी में वर्ष 2021 के लिए लोक प्रशासन के लिए प्रधानमंत्री उत्कृष्टता पुरस्कार प्राप्त किया है। कलेक्टर राहुल राज ने कहा कि पुरस्कार प्राप्त कर कुमरम भीम आसिफाबाद जिला गौरवान्वित महसूस कर रहा है।  उन्होंने कहा कि गुरुवार को सिविल सेवा दिवस के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री द्वारा उत्कृष्टता पुरस्कार प्रदान  किया गया। 

अतिरिक्त जिला कलेक्टर (स्थानीय निकाय) वरुण रेड्डी का इसमें अविस्मरणीय योगदान रहा है।  सी डी एस, डी  आर  डी ए., स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों और जनप्रतिनिधियों ने सहयोग प्रदान किया।  उन्होंने कहा कि अधिकारियों ने पुरस्कार देने का सामूहिक प्रयास किया है और इसी भावना के साथ जिले को सभी क्षेत्रों में सबसे आगे रखने के लिए मिलकर काम करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *